Header Ads Widget

Ticker

6/recent/ticker-posts

Sundar Pichai Biography in Hindi-सुंदर पिचाई की प्रेरणादायक कहानी

Introduction

 सुंदर पिचाई वर्तमान में विश्व की सबसे बड़ी कम्पनी  GOOGLE  के  CEO  है. यह भारत की एक महान हस्ती है. सुंदर पिचाई पूरी दुनिया के दूसरे ऐसे व्यक्ति है. जिन्हे सबसे ज्यादा सैलरी मिलती है।  सुंदर पिचाई से आगे TESLA  के CEO  एलन मस्क है। वर्ष 2020 में सुंदर पिचाई की सैलरी  20 लाख डॉलर (14.2 करोड़ रुपये) है। और 24 करोड़ डॉलर (1704 करोड़ रुपये) स्टॉक ऑप्शन के तौर पर मिलेंगे। इस पोस्ट में हम जानेगे की  सुंदर पिचाई ने कैसे फर्स से अर्श तक का सफर तय किया। 
Sundar Pichai Biography in Hindi-सुंदर पिचाई की प्रेरणादायक कहानी

 नाम  : पिचाई सुंदरराजन (Pichai Sundararajan)

जन्म : 12 जुलाई,1972

जन्म स्थान : मदुरै, तमिलनाडु, Madurai, Tamil Nadu

पिता का नाम : रघुनाथ पिचाई

माँ का नाम : लक्ष्मी 

वर्तमान राष्ट्रीयता  : अमेरिका 

शिक्षा :  10th और 12th तमिलनाडु IIT खरगपुर(Indian Institute of Technology Kharagpur), स्टनफोर्ड यूनिवर्सिटी कैलिफ़ोर्निया(Stanford University California), व्हार्टन स्कूल ऑफ़ दी यूनिवर्सिटी ऑफ़ पेन्सिलवानिया(Wharton School of the University of Pennsylvania)

व्यवसाय  : CEO (गूगल)


सुंदर पिचाई का जन्म तमिलनाडु के एक गांव मदुरै में 12 जुलाई 1972 को  हुआ था।  सुंदर पिचाई का वास्तविक नाम पिचाई सुंदरारजन है। सुंदर पिचाई के पिता का नाम रघुनाथ पिचाई है. और माँ का नाम लक्ष्मी है। सुंदर पिचाई एक इंजीनियर परिवार से ताल्लुक रखते हैं. पिचाई के पिता ब्रिटेन की जनरल इलेक्ट्रिक कंपनी में एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे. इनकी माँ भी एक ग्रेजुएट महिला थीं. वह एक स्टेनोग्राफर थीं. 

सुन्दर अपने बचपन के दिनों में अशोकनगर में रहे और यही से उन्होंने अपनी 10th की परीक्षा पास की इसके बाद पिचाई  चेन्नई में स्थित वना वाणी स्कूल से 12वीं की परीक्षा पास की। सुंदर पिचाई का मन पड़ने में इतना तेज था की मात्र 17 साल की उम्र में आईआईटी की प्रवेश परीक्षा पास कर ली। उनका परिवार दो कमरों के एक मकान में रहता था। उसमें सुंदर की पढ़ाई के लिए कोई अलग कमरा नहीं था। इसलिए वे ड्राइंग रूम के फर्श पर अपने छोटे भाई के साथ सोते थे।

 सुंदर पिचाई हमेशा से ही अपने स्कुल और कॉलेज के टॉपर रहे। सुंदर बेहद सभ्य, विनम्र और मृदुभाषी हैं। जब सुंदर पिचाई 12 साल की उम्र के थे। तब उनके पिता  लैंडलाइन फोन लाये आज जो दुनिया की सबसे बड़ी कम्पनी के सबसे ऊंचे पद पर स्थित है। उनके जीवन में यह सबसे पहला टेक्नोलोजी से जुड़ा कोई प्रोडक्ट था। सुंदर पिचाई को पढ़ाई के साथ-साथ क्रिकेट और फुटबॉल का बहुत शौक था.




Sundar Pichai Education 



सुन्दर पिचाई ने IIT. खरगपुर में दाखिला लिया और मेटलर्जिकल इंजीनियरिंग में डिग्री हासिल की। वर्ष 1993 में फाइनल परीक्षा में भी अपने बैच में टॉप किया सुंदर को रजत पदक से सम्मानित किया गया था।  और सुंदर को विदेश पड़ने के लिये छात्रवृत्ति दी गई. उसके बाद उन्होंने Stanford University में भौतिक विज्ञान में, MS (Masters in Science) की डिग्री पूरी कर ली और आखिर में वे MBA की पढाई के लिए Wharton School, University of Pennsylvania चले गए. और अपनी पढ़ाई पूरी की 
Sundar Pichai Biography in Hindi-सुंदर पिचाई की प्रेरणादायक कहानी


आई.आई.टी. खड़गपुर में सुंदर के प्राध्यापकों ने उन्हें स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से पी.एच.डी करने की सलाह दी पर सुन्दर ने एम.एस और एम.बी.ए. किया।

सुंदर पिचाई पड़ने में बहुत तेज थे. वो टेलीफोन नंबर लगाते समय उन्हें याद कर लेते थे। उनके दोस्तों का कहना है की पुरे google में ऐसा कोई व्यक्ति नहीं जो सुंदर की तारीफ न करता हो वह सभी लोगो से  अच्छा व्हवहार थे। सुंदर पिचाई बहुत ही सीधे और सरल स्वभाव के व्यक्ति है। वे आज भी समय-समय पर Skype के ज़रिये IIT खरगपुर के Students से बातचीत करते हैं।

Sundar Pichai करियर 


सुन्दर पिचाई ने अपने करियर की स्टार्टिंग ‘एप्लाइड मैटेरियल्स’ में इंजीनियरिंग और प्रोडक्ट मैनेजमेंट के पद पर काम किया । उसके पश्चात उन्होंने मैकिंसे एंड कंपनी में मैनेजमेंट कंसल्टिंग में कार्य किया। सुंदर पिचाई सन 2004 में गूगल से जुड़े। 

शुरुआत में सुंदर पिचाई अपनी एक छोटी सी टीम  जरिये गूगल सर्च टूल बार पर काम किया और काम करते हुए उनके मन आयडिया आया वह गूगल का एक अपना इंटरनेट ब्राउज़र बनाने की सोच रहे थे। लेकिन उस समय के गूगल सीओ ने इस प्रोजेक्ट पर काम करने से मना कर दिया। 

लेकिन सुंदर पिचाई ने हार नहीं मानी और गूगल के अन्य पाटनरो से बात की और वो इस प्रोजेक्ट को बनाने के लिये राजी हो गये.सन 2008 में सुंदर पिचाई की मदद से गूगल का अपना एक ब्राउजर बना जिसका नाम क्रोम रखा गया। दुनिया के ज्यादातर लोग क्रोम का इस्तमाल करते है. यह लोगो का सबसे पसंदीदा ब्राउज़र है. इससे पहले सुंदर पिचाई ने गूगल के लिये जीमेल और गूगल मैप्स जैसे apps तैयार किये जो काफी ज्यादा पॉपुलर हुए। 

यही से गूगल कम्पनी में सुंदर पिचाई की किस्मत बदली और सुंदर पिचाई का वाईस प्रेसिडेंट ऑफ़ प्रोडक्ट डेवलपमेंट के रूप में प्रमोशन किया गया। इस पोजीशन पर आते ही सुंदर पिचाई और भी मेहनत करने लगे और 2012 में वो Chrome और Apps के सीनियर वाईस प्रेसिडेंट बन गए।

साल 2013 में लार्री पेज नें पिचाई को एंड्राइड का इन-चार्ज बना दिया। और इसके बाद अक्टूबर 2014 में उन्हें प्रोडक्ट चीफ बना दिया गया। सुंदर पिचाई को गूगल का ceo बनने  पहले twitter और माइक्रोसॉफ्ट का ऑफर आया लेकिन उनकी लग्न और मेहनत को देखते हुए गूगल ने बहुत सारे पैसे बोनस के रूप में  उन्हें दिये। और 15 अगस्त 2015 को लैरी पेज ने सुंदर पिचाई को गूगल का सीईओ बनाने  घोषणा की. और साल 2016 में उन्हें Google कि एक कंपनी Alphabet Inc. के 273,328 शेयर्स डे कर सम्मान दिया गया था।

 

Sundar Pichai Wife


सुंदर पिचाई ने अपनी गर्लफ्रेंड, अंजलि पिचाई से शादी की है। वो दोनों IIT खरगपूर में एक साथ पड़ते थे। उनके दो बच्चे भी हैं एक लड़का और एक लड़की। उन्होंने Brooklyn, New York में $6.8 मिलियन देकर अपने लिए घर खरीदा है। वो अब भारत के नहीं बल्कि अमेरिका के नागरिक हैं इसीलिए वे अपने परिवार के साथ न्यू यॉर्क में ही रहते हैं। उन्होंने अभी अपने माँ - बाप  चेन्नई में एक फ्लैट ख़रीदा है। 

Sundar Pichai Salary


sundar pichai दुनिया के दूसरे सबसे ज्यादा सैलरी लेने वाले इंसान है। वर्ष 2020 में सुंदर पिचाई की सैलरी  20 लाख डॉलर (14.2 करोड़ रुपये) है। और 24 करोड़ डॉलर (1718  करोड़ रुपये) स्टॉक ऑप्शन के तौर पर मिलेंगे। सुंदर पिचाई से आगे TESLA  के CEO  एलन मस्क है। जिनकी सैलरी 3591 करोड़ रूपये है। 





टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां